Babasaheb Ambedkar : Women Empowerment नारी सम्मान के लिए निरन्तर संघर्ष

Babasaheb Ambedkar : Women Empowerment नारी सम्मान के लिए संघर्ष
Babasaheb Ambedkar Women Empowerment Philosophy of Liberation मुक्ति का दर्शन Dr B.R. Ambedkar Indian Constitution and Indian Society Hindi
Get Email of Our New Articles and Become Free Subscriber of DBInfoweb (90,000+ Joined Us):

Babasaheb Ambedkar : Women Empowerment नारी सम्मान के लिए निरन्तर संघर्ष The Philosophy of Liberation मुक्ति का दर्शन Dr B.R.Ambedkar, Indian Constitution and Indian Society

Babasaheb Ambedkar : Women Empowerment

1950 के पूर्व स्त्रियां पुरूष की दासी थी जिसका गवाह शास्त्र है।
आपको ये जानकर हैरानी होगी कि स्त्रियां किस प्रकार की प्रताडना को सहते आ रही थी, उन्हे झूठी कहा गया तथा उनके मन को भेडिये की तरह बताया गया। स्त्री को किसी भी पुरूष की तरफ आकर्षित होने वाली बताया गया। मानस मे तुलसी ने पशुओं की तरह नारी को पीटने योग्य बताया गया , गीता में स्त्री को पापयोनि बताया गया, मनुस्मृति में तो कई हदों तक नारी को गिराया गया।
लेकिन संविधान के अनुच्छेद 13 में इन सभी शास्त्रीय नियमों को ध्वस्त करते हुए उन्हें एक इंसान के रूप में सम्मान पूर्वक जीने का अधिकार दिया।
डॉ.बी.आर अंबेंडकर द्वारा महिलाओं को दिये गए अधिकार :-
1ः-बहुपत्नि की परंपरा को खत्म कर स्त्रियों को अद्भुत सम्मान दिया गया।
2ः-प्रथम वैध पत्नि के रहते दूसरी शादी को अमान्य किया।
3- बेटे की तरह बेटी को भी पिता की संपत्ति में अधिकार का प्रावधान किया।
4- गोद लेने का अधिकार दिया।
5-तलाक लेने का अधिकार दिया।
6- बेटी को वारिस बनने का अधिकार दिया।
7-प्रसव छुट्टी का प्रावधान किया।
8 -समान काम के लिए पुरूषों के समान वेतन पाने का अधिकार दिया।
9- स्त्री की क्षमता के अनुसार ही काम लेने का प्रावधान।
10- भूमिगत कोल खदानों में महिलाओं के काम करने पर रोक लगाया।
11- श्रम की अवधी 12  घंटे से घटाकर 8 घंटे की गई।
12- रखनी प्रथा, वेष्यावृत्ति पर रोक ।
13-लिंग भेद पर रोक।
14-मताधिकार का अधिकार।
15-धार्मिक स्वतंत्रता का अधिकार दिया।
16- प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति बनने के द्वार खोलें।
17- मानवीय गरिमा के साथ जीवन जीने का अधिकार दिया।
बाबासाहब द्वारा दिये गये कुछ ये ऐसे कथन है जो आपको आपसी एकता और संगठन के लिए मजबूर करेंगें।
मैनें तुम्हे आजाद करने के लिए मेरा सारा जीवन समर्पित कर दिया है, मेरा परिवार कुर्बान कर दिया है, मेरी इस कुर्बानी को व्यर्थ मत जाने देना। आपको आपसी मतभेद भुलाकर संगठित होना है और अपने अधिकारों के लिए लड़ना है।
||जयभीम, नमोःबुद्वाय।।

Sponsored By: MyTechnode.Com: Hacking, Programming, Blogging and Technical Tricks.

निवेदन :
  • कृपया अपने Comments से बताएं आपको यह Post कैसी लगी.
  • यदि आपके पास Hindi में कोई Inspirational Story, Important Article या अन्य जानकारी हो तो आप हमारे साथ शेयर कर सकते हैं. कृपया अपनी फोटो के साथ हमारी e mail ID : info@dbinfoweb.com पर भेजें. आपका Article चयनित होने पर आपकी फोटो के साथ यहाँ प्रकाशित किया जायेगा.
Get Email of Our New Articles

About Shilpa Thakare 198 Articles
I am Shilpa Thakare. Professional & Motivational Blogger @ DBInfoweb. Always think Positive, Do Positive than Sky is not Your Limit. My Dream Is write inspirational Hindi , Hindi Quotes, Motivational stories and motivate people to make their happy Successful life...

5 Comments on Babasaheb Ambedkar : Women Empowerment नारी सम्मान के लिए निरन्तर संघर्ष

  1. very nice article shilpa. Baba saheb is the real hero behind Indian women empowerment, but unfortunately we forget him and his sacrifices

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*