Friendship Hindi Story बुराईयों को भूल जाना और अच्छाईओ को दिल में जिंदा रखना

By | September 3, 2016

Friendship Hindi story, motivational hindi story inspirational story. what is friendship friendship message. Friendship is an important thing in human relations.

Friendship Hindi Story

दो Friends एक दिन साथ रेगिस्तान घूमने निकले और यात्रा के दौरान चलते चलते निजी बात पे कहा सुनी हो गयी । एक दोस्त ने दूसरे को थप्पड़ मार दिया । थप्पड़ खानें वाले दोस्त को चोट लगी दुःख भी हुआ लेकिन कुछ बोले बिना वो नीचे बैठ गया और रेत पे लिख दिया आज मेरे सबसे अच्छे दोस्त ने मुझे थप्पड़ मारा फिर वो दोनों आगे चलने लगे ।

आगे उन्होनें एक झील देखी और उसमे स्नान करने का फैसला किया । स्नान करते समय जिसने थप्पड़ खाया था वो दोस्त पानी में डूब ने लगा तो दूसरे दोस्त ने उसे खींच के बहार निकाल के बचा लिया । फिर वो जैसे उठा वो एक पत्थर पे लिखने लगा की आज मेरे सबसे अच्छे दोस्त ने मेरा जीवन बचाया तो जिसने अपने दोस्त को थप्पड़ मारा था और जान बचाई थी वो उससे पूछने लगा की जब मैंने तुम्हें थप्पड़ मारा तो तुमने रेत पे लिखा लेकिन जब मैंने तुम्हारी जान बचाई तो तुमने पत्थर पे लिखा ऐसा क्यों ?

दूसरे दोस्त ने जवाब दिया की जब कोई हमें दुःख पहुँचाता है तो उसे रेत पे लिखना चाहियें जिससे जब भी हवा चलेगी तो वो मिट जायेगा लेकिन जब कोई अच्छा काम करता है तो उसे पत्थर पे लिखना चाहिए जिससे उस अच्छाई को कोई हवा मिटा न सके ।

इस Friendship Hindi Story से हमें यह सीखने को मिलता है की बुराईयों को हमेशा भूल जाना और अच्छाईओ को हमारे दिल में हमेशा जिंदा रखना चाहिए ।

Sponsored By: MyTechnode.Com: Hacking, Programming, Blogging and Technical Tricks.

2 thoughts on “Friendship Hindi Story बुराईयों को भूल जाना और अच्छाईओ को दिल में जिंदा रखना

Leave a Reply

Your email address will not be published.